Home Business guide मुर्गी फार्म कैसे शुरू करें - How to start Poultry Farm Hindi

मुर्गी फार्म कैसे शुरू करें – How to start Poultry Farm Hindi

मुर्गी फार्म कैसे शुरू करें – How to start Poultry Farm Hindi , क्या आप अपना पोल्ट्री बिजनेस शुरू करना चाह रहे हो? यदि हां, तो आपको पहले इस बिजनेस के बारे में पूरी जानकारी ले लेनी चाहिए। आपको मुर्गियों को पालने से लेकर अपने बिजनेस की मार्केटिंग तक हर चीज को बड़ी सावधानी पूर्वक करना होगा। यदि आप पूरी जानकारी और समझदारी के साथ अपना व्यवसाय शुरू करेंगे। तो आपको इस व्यवसाय में बहुत तेजी के साथ सफलता मिलेगी।

क्या आप समझना चाह रहे हैं, कि मुर्गी फार्म कैसे शुरू करें? तो आपको नीचे दिए गए सभी पॉइंट को ध्यान पूर्वक पढ़ना और फॉलो करना होगा।

अपना पोल्ट्री बिजनेस चुने – Choose Your Poultry Farm Hindi

Poultry Farming एक बहुत बड़ी इंडस्ट्री है। आमतौर से Poultry Farming दो प्रकार की होती है। बॉयलर और लेयर। बॉयलर फार्मिंग में मीट के लिए मुर्गे पाले जाते हैं। और लेयर फार्मिंग में मुर्गों को अंडों के लिए पाले जाते हैं। Poultry Farming बिजनेस में अंडों से चूजे बनाकर बेचने का भी व्यवसाय आता है।

Poultry Farming बिजनेस के अंदर बहुत से सेक्टर आते हैं।आपको यह डिसाइड करना होगा कि इनमें से आप किस सेक्टर को चुनेंगे। शुरुआत में आप इनमें से  एक या दो सेक्टर कोही चुने। ताकि आपके लिए बिजनेस रन करने में आसानी हो।

आप नीचे दिए गए सेक्टर में से Poultry Farming बिजनेस के लिए  एक सेक्टर चुने

  • बॉयलर या मीट प्रोडक्शन
  • लेयर या एग प्रोडक्शन
  • पोल्ट्री फ़ीड उत्पादन
  • हैचरी
  • मीट या एग प्रोसेसिंग बिजनेस

मुर्गियों का प्रकार चुनें – Choose the type of chickens

मुर्गी फार्म के मालिक कई प्रकार की मुर्गियां पालते हैं। आप अपना पोल्ट्री फर्म दो या तीन मुर्गो पर केंद्रित करके खोल सकते हैं। और फिर व्यवसाय बढ़ने के बाद और मुर्गियों को शामिल करें।

फार्म का स्थान निर्धारित करें – select Farm Location

अब आपको अपने Poultry Farm के लिए एक उपयुक्त स्थान ढूंढना है। यह महत्वपूर्ण है कि स्थान में सभी आवश्यक सुविधाएं हों। अपने Poultry Farm को शहर से थोड़ी दूर बनाने की कोशिश करें ताकि आपको सस्ती कीमत पर जमीन और लेबर मिल सके।लेकिन अपने नजदीकी शहर से बहुत दूर भी आपको पोल्ट्री फॉर्म सेटअप नहीं करना है। वरना आपको ट्रांसपोर्ट कॉस्ट बहुत ज्यादा पड़ सकती है।

याद रखें कि आपको अपने उपभोक्ताओं को बेचने के लिए के लिए अधिक बार किसी शहर का रुख करना होगा।

आर्थिक रूप से अवेयर रहे – be financially aware

हो सकता है कि अपना मुर्गी फार्म शुरू करते समय आपके पास ज्यादा पैसा न हो। लेकिन मुर्गी फार्म स्थापित करने के लिए पर्याप्त धन की आवश्यकता होती है। Poultry Farm खोलने के लिए आपको बहुत से उपकरण खरीदने की भी जरुरत पड़ेगी जैसे कि फीडर, पेयर्स, पर्चेज़, लाइटिंग सिस्टम, इनक्यूबेटर, हीटर या ब्रूडर, और बहुत सारे।

इसलिए, अपनी वित्तीय आवश्यकताओं का विश्लेषण करें। फिर मुर्गी फार्म के लिए इनिशियल कैपिटल एकत्रित करें। 

मुर्गी फार्म का निर्माण – Construction of Poultry Farm Hindi

मुर्गी फार्म के स्थान का चयन करने के बाद, अपने मुर्गी फार्म के लिए एक अच्छे फार्म का निर्माण करें। सुनिश्चित करें कि पोल्ट्री फार्म में सभी आवश्यक सुविधाएं उपलब्ध हैं। पोल्ट्री आवास प्रणाली के तीन प्रकार हैं जिनका आप उपयोग कर सकते हैं। एक्सटेंसिव सेमी इंटेंसिव और इंटेंसिव। आप अपने पक्षियों को फर्श या पिंजरे प्रणाली में रख सकते हैं।

औसतन, ब्रायलर मुर्गे को लगभग 2.5 वर्ग फुट जगह की जरूरत होती है। और परत मुर्गे को लगभग 4 वर्ग फुट जगह की जरूरत होती है। पिंजरे प्रणाली में प्रति पक्षी लगभग 4 वर्ग फीट जगह की आवश्यकता होती है। घर में उचित लाइटिंग सिस्टम और वेंटिलेशन सिस्टम जोड़ना न भूलें।

इसे भी पढ़ें – कम लागत के बिजनेस आइडिया

चूजे खरीदना – Purchasing Chicks

सब कुछ सेट करने और सब कुछ तैयार होने के बाद, अपने क्षेत्र में विश्वसनीय ब्रीडर से गुणवत्ता वाले चूजों की खरीद करें और उनकी देखभाल करना शुरू करें। यदि आपको इस फील्ड का कोई भी एक्सपीरियंस नहीं है। तो आप पहले कम चूजों के साथ शुरुआत करें। आप शुरुआत में 500 चूजों से ज्यादा ना रखें।

फीडिंग – Feeding

खिलाना मुर्गी पालन व्यवसाय का सबसे महत्वपूर्ण हिस्सा है। पोल्ट्री फार्म बनाने और उपकरण और चूजों की खरीद के बाद, आपको अपने मुर्गियों को खिलाने के लिए बड़ी राशि खर्च करनी होगी। आपके कुल प्रोजेक्ट का लगभग 70% खर्च फीडिंग की ओर जाएगा। और व्यवसाय में सफलता गुणवत्ता और पर्याप्त फीडिंग पर भी निर्भर करती है।

आप बाजार से फ़ीड सामग्री खरीद सकते हैं और अपने आप से फ़ीड तैयार कर सकते हैं या बाजार से तैयार पोल्ट्री फीड खरीद सकते हैं। 

स्वास्थ्य प्रबंधन – Health Management

आपको अपने मुर्गी फार्म में उचित दवा प्रणाली सुनिश्चित करनी होगी। पोल्ट्री फार्मिंग में मुर्गियां कई प्रकार की बीमारियों से ग्रस्त हो सकती हैं। इसीलिए आपको इसके लिए तैयार रहना होगा। हम जानते हैं कि रोकथाम इलाज से बेहतर है।  इसलिए आपको सचेत रहना होगा और अपने पक्षियों को सुरक्षित रखने के लिए उचित देखभाल करनी होगी।

उन्हें समय पर टीकाकरण करें और हमेशा उन्हें ताजा पानी और भोजन प्रदान करने का प्रयास करें। कुछ आवश्यक वैक्सीन और दवा का भी स्टॉक करें ताकि जरूरत पड़ने पर आप उनका उपयोग कर सकें।

मुर्गी फार्म की मार्केटिंग – Marketing of Poultry Farm Hindi

अच्छी मार्केटिंग रणनीतियाँ आपके व्यवसाय से लाभ को प्रभावित करती हैं। यदि आप अपने उत्पादों को बाजार में आसानी से बेच लेते हैं, तो यह आपको अधिक उत्पादन करने में प्रोत्साहित करेगा। हम आपको सलाह देंगे कि आप मार्केटिंग के लिए अपने एरिया के हिसाब से अपना बिजनेस प्लान पहले से ही तैयार रखें। क्योंकि यदि आप अपने प्रोडक्ट का उचित मार्केटिंग नहीं कर सकते हैं तो आपका व्यवसाय अधिक लाभदायक नहीं होगा।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Digital marketing क्या है? digital marketing business कैसे करें?

आज के समय में यदि आपको Digital marketing की अच्छी जानकारी हो, तो आप के लिए किसी भी बिज़नेस में सफल होना काफी आसान हो...

laptop se paise kaise kamaye ? लैपटॉप से पैसे कैसे कमायें?

laptop se paise kaise kamaye , आज के इस टेक्नोलॉजी के समय में laptop क्या computer होना आम बात है पर ज्यादातर लोग उसका...

Demat and Trading account (Upstox) कैसे खोलें?

क्या आप Demat and Trading account खोलना चाते हैं? लेकिन आपको अकाउंट खोलना नहीं आता, कोई बात नहीं।  हम आपको आसान भाषा में डीमैट अकाउंट...

Demat account क्या है?

भारत में Demat account, 1996 में शुरू किया गया। जिसने भारतीय शेयर बाजार की दिशा को एक नई तेजी दी। डीमैट अकाउंट शुरू किए...

Recent Comments