Home Uncategorized 10 वीं कक्षा के बाद कौन से विषय चुने। subject after 10th...

10 वीं कक्षा के बाद कौन से विषय चुने। subject after 10th class

10 वीं कक्षा के बाद कौन से विषय चुने – which subject after 10th class? : देश के लगभग सभी शिक्षा संस्थानों ने 10 वीं बोर्ड परीक्षा के रिजल्ट जारी कर दिए हैं। अब छात्र यह कर रहे हैं की 10 वीं के बाद कौन सा कोर्स करना चाहिए या कौन से सब्जेक्ट लेने हैं। आज आपको बताया गया है। कि 10वीं कक्षा के लड़के और लड़कियों के लिए कौन से सब्जेक्ट सबसे अच्छे हैं। 

10 वीं कक्षा के बाद कौन से विषय चुने। subject after 10th class

10 वीं की परीक्षा होने के बाद अब छात्र यह सोच रहे हैं। कि उन्हें कौन से विषय लेने हैं। सभी राज्य और केंद्रीय बोर्ड 10 वीं की परीक्षा के परिणाम घोषित कर चुके हैं। अब छात्र आगे की शिक्षा के लिए दाखिला ले सकते हैं। मैट्रिक पास करने के बाद छात्रों के पास प्रवेश लेने के लिए बहुत सारे करियर विकल्प और कोर्सेज हैं। लेकिन कक्षा 10 वीं के बाद सही स्ट्रीम चुनने के लिए छात्रों का मार्गदर्शन करना अत्यंत आवश्यक है। इसलिए अपनी क्षमता के अनुसार सर्वश्रेष्ठ करियर का चयन कैसे करें? जानने के लिए इस आर्टिकल को ध्यान से पढ़ें। 

विद्यार्थियों के लिए 10 वीं कक्षा के बाद अवसर। 

छात्रों का जीवन उतार-चढ़ाव से भरा होता है। वे एक-एक करके स्कूल की सभी परीक्षाएं पास करते हैं हाई स्कूल 2020 की परीक्षा भी कई लाखों छात्रों ने पास की। अब वे उस स्थिति में खड़े हैं, जहां उनके पास 10 वीं कक्षा के बाद कैरियर के बहुत सारे अवसर हैं। लेकिन छात्रों के लिए सही मार्ग में मार्गदर्शन करना बहुत महत्वपूर्ण है ताकि वे अपने सपनों को प्राप्त कर सकें। इसीलिए हमने 10 वीं के बाद विद्यार्थियों के लिए कौन सा करियर बेहतर रहेगा इस पर संक्षिप्त में रिसर्च की है। 

10 वीं के बाद विकल्पों की सूची (साइंस, आर्ट, कॉमर्स) – subject after 10th class

छात्र अपने कैरियर और शिक्षा के लिए विकल्प लेने से डरते हैं। कक्षा 10 वीं कक्षा के छात्रों के लिए बहुत सारे विकल्प उपलब्ध हैं। इसलिए सही विकल्पों और विषयों को चुनना बहुत महत्वपूर्ण है। किसी विषय को चुनने से पहले उन्हें इसके बारे में जानना होगा।

विज्ञान (साइंस):

इस विकल्प के अंदर मुख्यता दो विषय आते हैं – बायलॉजी और गणित यह विकल्प 10 वीं के बाद उन छात्रों के द्वारा चुना जाता है। जो इंजीनियर डॉक्टर टीचर या आगे हायर स्टडी में जाना चाहते हैं। इसलिए छात्रों को अपने शिक्षा स्तर पर विचार करने के पश्चात इन विषयों का चुनाव करना चाहिए। इन विषयों में कैरियर के बहुत सारे अवसर और उच्च अध्ययन का विकल्प उपलब्ध है।

आर्ट्स:

आर्ट्स स्ट्रीम को छात्रों के लिए सबसे आसान विषय के लिए जाना जाता है। ऐसा नहीं है कि आर्ट स्ट्रीम के छात्रों के पास उच्च करियर के विकल्प नहीं है। इसके अंदर भी बहुत सारे बड़े विषय शामिल है। आर्ट्स स्ट्रीम के छात्रों के पास भी अनेक करियर ऑप्शन उपलब्ध है। मुख्य रूप से आर्ट्स स्ट्रीम में मानविकी, शाब्दिक, सामाजिक, मनोवैज्ञानिक विषय आते हैं। 

कॉमर्स:

कॉमर्स उन छात्रों के लिए सबसे महत्वपूर्ण विषय है। जो अपना करियर मैनेजमेंट, बैंकिंग, चार्टेड अकाउंटेंट, कंपनी सेक्रेटरी, फाइनेंशियल एडवाइजर, आदि  बनाना चाहते हैं। कॉमर्स के मुख्य विषय अकाउंटेंट, फाइनेंस, और इकोनॉमिक्स हैं। कॉमर्स एक ऐसा विषय है जिसमें करियर ऑप्शन बहुत अधिक है। लेकिन बहुत कम छात्र कॉमर्स के विषयों को पसंद करते हैं। 

10 वीं के बाद करियर ऑप्शन की सूची

10 वीं के बाद नौकरी के लिए छात्रों के पास कम अवसर उपलब्ध होते हैं। 10 वीं के बाद छात्र भविष्य में नौकरियों के लिए तैयार होते हैं। लेकिन बहुत से छात्र ऐसे होते हैं जो 10 वीं के बाद नौकरी के लिए उत्साहित होते हैं। उनके लिए 10 वीं के बाद करने वाली नौकरियों की सूची दी गई है। 

ITI (इंडस्ट्रियल ट्रेडिंग इंस्टीट्यूट) / ITC (इंडस्ट्रियल ट्रेनिंग सेंटर) –

यह इंजीनियरिंग और नॉन-इंजीनियरिंग फील्ड्स में दो साल का कोर्स है। इसे एक व्यवसाय / व्यापार शिल्प प्रशिक्षण योजना कहा जाता है। जहां आप बुनियादी तकनीकी कौशल सकते हैं। जैसे कि:-

  • इलेक्ट्रीशियन
  • कारपेंटर
  • प्लंबर
  • कोपा
  • फिटर
  • मैकेनिक
  • टेक्नीशियन

पॉलिटेक्निक –

इंजीनियरिंग और गैर-इंजीनियरिंग ट्रेडों में कई पॉलीसीटी (पॉलिटेक्निक कॉमन एंट्रेंस टेस्ट), सीईईपी (पॉलिटेक्निक के लिए कॉमन एंट्रेंस एग्जाम) डिप्लोमा कोर्स हैं। इसका एक, दो, तीन और चार साल का कोर्स उपलब्ध है जैसे कि:-

  • सिविल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा
  • इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा
  • मैकेनिकल इंजीनियरिंग में डिप्लोमा
  • इलेक्ट्रॉनिक्स और कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग में डिप्लोमा
  • कंप्यूटर इंजीनियरिंग में डिप्लोमा
  • गारमेंट टेक्नोलॉजी में डिप्लोमा
  • गृह विज्ञान में डिप्लोमा
  • कृषि में डिप्लोमा

भारतीय वायु सेना – गैर-तकनीकी कैडर

  • IAF एयरमैन गैर-तकनीकी व्यापार परीक्षा

भारतीय सेना – तकनीकी कैडर में सैनिक पद

  • भारतीय सेना के सैनिक क्लर्क की परीक्षा
  • भारतीय सेना सैनिक सामान्य ड्यूटी परीक्षा (NER)
  • भारतीय सेना सैनिक तकनीकी परीक्षा (MER)
  • भारतीय सेना सैनिक नर्सिंग सहायक परीक्षा (MER)

भारतीय नौसेना – भारत नौसेना शाखा में सशस्त्र बल

  • भारतीय नौसेना डॉक यार्ड अपरेंटिस परीक्षा
  • भारतीय नौसेना नाविकों मैट्रिक प्रवेश भर्ती परीक्षा
  • भारतीय नौसेना आर्टिफिशर अपरेंटिस परीक्षा

 केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (CRPF) –

  • CRPF में कांस्टेबल (तकनीकी और ट्रेड्समैन)

सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) –

  • बीएसएफ कांस्टेबल परीक्षा

आशा करते हैं कि अब छात्रों के पास 10 वीं कक्षा के बाद करियर और शिक्षा के विकल्प उपलब्ध होंगे। अब विद्यार्थियों को अपने भविष्य और सपने के बारे में सोचना चाहिए। ताकि वह अपने लिए सबसे उत्तम करियर का चुनाव कर सके। 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Instagram से हर महीने एक लाख रुपए कैसे कमाए? – how to earn 100k per month Instagram

Instagram से एक लाख रुपए महीना! क्या यह सच है? Instagram एक फोटोस और वीडियो को शेयर करने वाला प्लेटफार्म है। जहां पर आप अपना कंटेंट...

Business planing in hindi – business ki planning kaise kare?

यदि आप इस टुटोरिअल को पढ़ रहे हैं। तो सम्भव है की आप खुद का business कर रहे हैं या बिज़नेस शुरू करना चाते...

How to start a business in hindi ? business कैसे start करें ?

How to start a business in hindi, आज इस हम आपको बताएंगे की आप अपना business कसे start कर सकते हैं। यदि आप भी किसी...

Affiliate Marketing क्या है? Affiliate Marketing से पैसे कैसे कमाए ?

यदि इंटरनेट पर Affiliate Marketing के बारे में सर्च करें तो लगेगा की एफिलिएट मार्केटिंग पैसा बनाने के बारे में है। कुछ नहीं करने पर...

Recent Comments