Health Card Kaise Banaye – Digital Health ID

 Health Card Kaise Banaye – Digital Health ID

दोस्तों देश के प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी ने एक नई डिजिटल इंडिया मिशन की शुरुआत की है जिसके माध्यम से सभी प्रकार की सेवाओं को डिजिटल रूप में संचालित किया जाएगा। इसी से संबंधित हेल्थ के क्षेत्र में  भी डिजिटलीकरण करना शुरू कर दिया हैं। सरकार की इस योजना के तहत सभी लोगो के डाटाबेस को तैयार किया जाएगा। जिसमे देश के नागरिक अपना इलाज करवा सकते हैं। सरकार की इस स्कीम का लाभ प्रदेश के सभी लोगो को मिलेगा। 

आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे की हेल्थ कार्ड कैसे बनाए? डिजिटल हेल्थ कार्ड बनाने के लिए आवश्यक दस्तावेज क्या क्या होने चाहिए? डिजिटल हेल्थ कार्ड बनाने के लिए आवेदन कैसे करें? इसके लिए आप यह लेख अंत तक पढ़े? 

डिजिटल हेल्थ कार्ड 

देश में डिजिटल कार्ड की शुरुआत 15 अगस्त 2015 को  आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन की शुरुआत की हैं। शुरुआत में इस योजना को 6 केंद्र शासित प्रदेश में लागू किया था लेकिन 27 सितंबर 2021  से पूरे देश मे इस योजना का शुरू कर दिया गया है सरकार की इस योजना के माध्यम से देश के सभी लोगों का डेटाबेस तैयार किया जाएगा। जिससे सभी नागरिकों का हेल्थ आईडी कर बन सके। 

सरकार इस डाटाबेस के आधार पर नई नई योजनाएं लागू कर सकती है इस स्कीम के तहत लोगो को स्वास्थ्य से संबंधित सभी जानकारियां और डॉक्टर आदि की जानकारी, मेडिकल स्टोर की जानकारी भी इस डिजिटल हेल्थ कार्ड में स्टोर कर दी जाएगी। 

इस डिजिटल कार्ड की मदद से मेडिकल रिपोर्ट या स्वास्थ्य संबंधित जानकारी आप डिजिटल रूप से देख सकते हैं। सरकार की यह योजना स्वास्थ्य संबंधित सेवाओं के लिए उपयोगी साबित होगी। 

आयुष्मान डिजिटल भारत का शुभारंभ कब किया गया 

केंद्र सरकार ने इस योजना का शुभारंभ 27 सितंबर 2021 को देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने वीडियो कॉन्फ्रेसिंग के माध्यम से किया था। सरकार ने इस योजना की घोषणा 15 अगस्त 2020 को की थी। शुरुआत में यह योजना सिर्फ केंद्र शासित प्रदेश में शुरू की गई थी। लेकिन आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना की तीसरी वर्षगाठ पर मोदी सरकार ने सभी राज्यों में इस योजना की शुरुआत कर दी हैं। 

आयुष्मान डिजिटल भारत का उद्देश्य

केंद्र सरकार की इस योजना का मुख्य उद्देश्य निम्न है

• स्वास्थ्य कल्याण की सेवाओं के quality सुनिश्चित करना

• स्वास्थ्य की डिजिटल प्रणाली को स्थापित करना

• स्वास्थ्य की सेवाओं में राष्ट्रीय पोर्टिबिलिटी को सुनिश्चित करना है 

• देश के सभी स्वास्थ्य धारकों को मानकों को अपनाने के लिए प्रोत्साहित करना।

• डिजिटल स्वास्थ्य सेवाओं को बढ़ावा देना।

आयुष्मान डिजिटल भारत मिशन से लाभ

• सरकार की इस योजना से सभी नागरिकों को स्वास्थ्य सुविधाएं एवम सेवा प्रदाता को साझा कर सकते हैं। 

• कोई भी व्यक्ति tele कॉलिंग के माध्यम से स्वास्थ्य संबंधित समस्याओं के बारे में जानकारी ले सकता हैं। 

• कोई भी मरीज अपने सभी मेडिकल रेकॉर्ड्स को सुरक्षित रख सकता है और उनको आसानी से एक्सेस कर सकेगा। इसके अलावा अपनी सभी detilse की जानकारी को दूसरे के साथ साझा कर सकते हैं। 

• इस हेल्थ कार्ड के माध्यम से व्यक्ति की हेल्थ केयर और मरीज की मेडिकल हिस्ट्री के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। इससे मरीजों को बेहतर इलाज की सुविधा मिल जाती हैं। 

• हेल्थ कार्ड की मदद से आपका संबंधित सभी जानकारी घर बैठे प्राप्त कर सकते हैं।

• इस कार्ड की मदद से व्यक्ति अपना इलाज देश के किसी भी अस्पताल में करवा सकता हैं। 

• कोई भी डॉक्टर इस कार्ड की मदद से आपके स्वास्थ्य की जानकारी ले सकता हैं। 

• किसी भी सोधकर्ता को इससे अध्यन एवम मूल्यांकन करने मे आसानी हो जायेगी। 

डिजिटल हेल्थ मिशन आपको क्या क्या सुविधाए मिलेगी

• हेल्थ रिकॉर्ड देखना 

• डिजिटल हेल्थ कार्ड बनाना

• स्वास्थ्य से संबंधित जानकारी प्राप्त करना

• स्वास्थ्य के रिकॉर्ड को देखना 

• हेल्थ रिकॉर्ड को हेल्थ आईडी से लिंक करना 

हेल्थ  आईडी कार्ड से संबंधित कुछ महत्वपूर्ण चीजे

• डिजिटल हेल्थ कार्ड 14 अंको का होगा 

• कार्ड पर एक unique बार कोड दिया जाएगा

• इस मिशन के तहत देश के लोगो के आलावा सभी डॉक्टर, क्लीनिक, dispencry आदि को जोड़ा जाएगा। 

• आप बिना यूजर जानकारी के detilse को नहीं देख सकते हैं। 

• किसी व्यक्ति की जानकारी को देखने के लिए उसकी ओटीपी और पासवर्ड की जरूरत पड़ेगी। 
हेल्थ कार्ड की विशेषताएं

• इस मिशन के तहत सभी पेशेंट का डाटा ऑनलाइन स्टोर किया जाएगा जिसको कोई भी व्यक्ति देख सकता है

• इस स्कीम के तहत कोई भी व्यक्ति अपनी में कल रिपोर्ट को कहीं पर भी देख सकता है

• हेल्थ कार्ड बन जाने से लोगो को समय की बचत हो जाएगी

• सरकार ने इस योजना के लिए 500 करोड़ रुपए का बजट निर्धारित किया है

• डिजिटल हेल्थ कार्ड में किसी पेशेंट का डाटा गोपनीय रखा जाएगा।

• इस हेल्थ कार्ड के बन जाने से स्वास्थ्य के क्षेत्र में एक बहुत बड़ी क्रांति आएगी। 

• यह योजना केंद्र सरकार की जन आरोग्य योजना के तहत आती हैं। 

• हेल्थ आईडी कार्ड को आधार कार्ड से लिंक करना होगा। 

डिजिटल हेल्थ कार्ड बनवाने के लिए आवश्यक दस्तावेज

• सरकार की इस स्कीम में शामिल होने के लिए आवेदक को भारत देश का निवासी होना चाहिए

• आवेदक का आधार कार्ड 

• बैंक पासबुक 

• राशन कार्ड 

• पासपोर्ट आकार फोटो 

• मोबाइल नंबर 

डिजिटल हेल्थ कार्ड बनाने के लिए आवेदन कैसे करें

डिजिटल हेल्थ कार्ड बनाने के लिए आपको निम्न स्टेप्स को फॉलो करना होगा

• सबसे पहले आपको नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाना होगा।

• आपके सामने होम पेज पर कई सारे ऑप्शन देखने को मिल जाते हैं। 

• अब होम पेज पर क्रिएट हेल्थ आईडी वाले ऑप्शन पर क्लिक करें। 

• दोबारा से आपकी स्क्रीन पर एक नया फॉर्म खुल जाएगा। 

• इस ऑप्शन पर आपको अपना आधार कार्ड नंबर को डालना होगा

• आपके आधार कार्ड पर रजिस्टर मोबाइल नंबर पर ओटीपी सेंड किया जाएगा। 

• आप मोबाइल नंबर के माध्यम से भी कर सकते है

• आधार कार्ड वाला ऑप्शन चुने 

• जैसे ही ओटीपी को भरेंगे आपकी स्क्रीन पर एक फॉर्म खुल जायेगा। 

• फॉर्म में मांगी गई सारी जानकारी को ध्यानपूर्वक भरे। 

• उसके बाद सबमिट वाले ऑप्शन पर क्लिक करें। 

• इसके बाद स्क्रीन पर एक डिजिटल आईडी जेनरेट हो जाती हैं। 

मोबाइल ऐप को इंस्टाल कैसे करें

• एप्लिकेशन को इंस्टाल करने के लिए आप मिनिस्ट्री ऑफ़ हेल्थ की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना होगा।

• आपके सामने होम पेज आ जाएगा।

• सबसे नीचे स्क्रॉल करने पर एप को इंस्टाल करने का ऑप्शन दिखाई पड़ेगा। 

• इंस्टाल वाले ऑप्शन पर क्लिक करें। 

• मोबाइल मे यह एप इंस्टाल हो जाएगा। 

• अपना मोबाइल नंबर डालकर लॉगिन करे। 

हेलपलाइन नंबर 

इस लेख में हमने आपको डिजिटल हेल्थ कार्ड के बारे में सारी जानकारी दी हैं। यदि आपको अन्य प्रकार की जानकारी लेना चाहते है तो आप हेल्पलाइन पर कॉल कर सकते हैं। आप उन्हे काल या जीमेल आईडी के माध्यम से संपर्क कर सकते हैं। 

नेशनल डिजिटल हेल्थ मिशन का टोल फ्री नंबर 1800114477 है आप इस पर कभी भी काल कर जानकारी ले सकते हैं। या फिर जीमेल आईडी के माध्यम से भी जानकारी ले सकते हैं। 

निष्कर्ष 

दोस्तों आज के इस लेख में हमने आपको डिजिटल हेल्थ कार्ड के बारे में संपूर्ण जानकारी दी है इसके अलावा आप किसी भी प्रकार की समस्या का सामना कर रहे हो तो आप हेल्पलाइन पर काल करके जानकारी ले सकते हैं। आशा करते है की आप हेल्पलाइन नंबर पर काल करके आपकी समस्या का समाधान हो जाएगा। 

उम्मीद करता हूं लेख आपके लिए उपयोगी साबित होगा। इस लेख में दी गई जानकारी के माध्यम से आप डिजिटल हेल्थ कार्ड को बनवा सकते हैं।


Read more Apne name pe kitne sim chalu hai kaise pata kare

Leave a Reply

Your email address will not be published.